Articles

ग्रामों को प्राप्त होने वाले बजट के अनुरूप कार्ययोजना बनाएं-कलेक्टर श्री सुचारी

 कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने मंगलवार की सायंकाल कुरवाई विकासखण्ड के ग्राम माला, फतेहपुर एवं काछी कुम्हारिया में आयोजित ग्राम संसद की कार्यवाही में शामिल होकर ग्रामोदय से भारत उदय अभियान के तहत ग्राम पंचायतों में अद्योसंरचनाओं के तहत कराए जाने वाले कार्यो, हितग्राहीमूलक योजनाओं से लाभांवित करने तथा ग्रामीणजनों के प्राप्त आवेदन पत्रों का जायजा लिया। इस दौरान ग्रामीणजनों से रू-ब-रू होकर ग्रामोदय से भारत उदय अभियान की मंशा को उन्होंने रेखांकित किया। 
     माध्यमिक शाला माला के प्रांगण में आयोजित कार्यक्रम में कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि आगामी दो वर्षो के लिए कार्ययोजना बनाई जानी है। जिसमें इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि ग्राम पंचायत को विभिन्न मदों के तहत कुल कितना बजट मिलता है। ग्रामीणों ने बताया कि नलजल योजना विगत दो माह से बंद है। ग्राम में अब तक 241 शौचालय बनाए जा चुके है। प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वरोजगार योजनाओं, के अलावा मुद्रा बैंक योजना, विभिन्न प्रकार की पेंशन से लाभांवित होने वाले हितग्राहियों से संवाद किया वही ग्रामीणजनों द्वारा दिए गए सुझावों को पंजीबद्ध किया गया। ग्राम की निःशक्त राजकुमारी को निःशक्तता पेंशन शीघ्र देने के निर्देश दिए है। 
    ग्राम फतेहपुर में गतवर्ष बारिश से मकान गिरने पर पीड़ितों को अब तक राहत राशि नही मिलने पर कलेक्टर ने असंतोष जाहिर करते हुए एसडीएम को निर्देश दिए कि प्रकरणों की शीघ्र जांच करें और दोषियों के खिलाफ कार्यवाही प्रस्तावित करें। उन्होंने पीड़ितों से कहा कि सात दिवस के भीतर राहत राशि आपके बैंक खातों में जमा करा दी जाएगी। ग्रामीणों ने बताया कि विगत छह माह से बिजली आपूर्ति बंद है। ऊर्जा विभाग के अधिकारी ने बताया कि गांव से 13 लाख रूपए वसूली की जानी है। 
    कलेक्टर श्री सुचारी ने ग्रामीणों से कहा कि वे बिजली बिल जरूर भरें ताकि गांव में बिजली की आपूर्ति सतत बनी रहें। उन्होंने ऊर्जा विभाग के बिल देयकों में योजना के अंतर्गत दी जा रही सहूलियतों का शीघ्र लाभ लेने की बात ग्रामीणजनों को समर्झाईं। 
    कलेक्टर श्री सुचारी को ग्राम काछी कुम्हारिया में स्कूल और आंगनबाडी केन्द्र के लिए अलग-अलग स्वसहायता समूह द्वारा भोजन तैयार किया जा रहा है आंगनबाडी केन्द्र के लिए प्रदाय कर रहे स्वसहायता समूह की महिलाओं ने बताया कि स्कूल में मध्यान्ह भोजन तैयार करने वाले स्वसहायता समूह के सदस्यों द्वारा छूआछूत का बरताव अपनाया जाता है वही गैस चूल्हे पर खाना बनाने से मना किया जाता है। 
    कलेक्टर श्री सुचारी ने उक्त शिकायत को गंभीरता से लेते हुए कुरवाई एसडीएम को तीन दिवस के भीतर जांच पड़ताल करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जांच में यदि मध्यान्ह भोजन तैयार करने वाले स्वसहायता समूह की गलतियां पाई जाती है तो समूह को निरस्त करने की कार्यवाही की जाए। 
    कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि 29 अप्रैल को कुरवाई में मुख्यमंत्री कन्या/निकाह योजना के तहत वैवाहिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया है। अतः क्षेत्र की ऐसी कन्याएं जिनका विवाह होना है उनके परिवारजनों तक यह संदेश पहुंचाया जाए कि वे सामूहिक वैवाहिक कार्यक्रम में पंजीयन कराएं ताकि उन्हें योजना का लाभ मिल सकें।
    ग्राम काछी कुम्हारिया की माध्यमिक शाला की बाउण्ड्रीवाल निर्माण हेतु शिक्षा विभाग के माध्यम से राशि उपलब्ध कराने का आश्वासन जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा दिया गया। उन्होंने ग्राम पंचायत से बाउण्ड्रीवाल निर्माण का ठहराव प्रस्ताव शीघ्र ही जिला कार्यालय को उपलब्ध कराने की बात कही। इस अवसर पर कुरवाई एसडीएम श्री संदीप आष्ठाना, जिला शिक्षा अधिकारी श्री एचएन नेमा, जनपद सीईओ श्री विजय श्रीवास्तव, नायब तहसीलदार श्री ताम्रकार साथ मौजूद थे।