Articles

कृषि क्रांति रथ गांव की ओर रवाना हुए -

कृषि महोत्सव के अंतर्गत आज से दो मई तक कृषि क्रांति रथ गांव में भ्रमण कर कृषि क्षेत्र में हुई अद्यतन प्रगति की जानकारी देंगे और किसानों को अभिप्रेरित करेंगे। कृषि महोत्सव कार्यक्रम के अंतर्गत आज जिला मुख्यालय पर कृषि संगोष्ठी एवं कृषि क्राति रथों को हरी झंडी दिखाने का कार्यक्रम नवीन कृषि उपज मंडी प्रांगण में सम्पन्न हुआ। 
   जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी, विधायक श्री कल्याण सिंह ठाकुर समेत अन्य अतिथियों के द्वारा कृषि क्रांति रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया है। शुभारंभ कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा किसानों के हितों में चहुंओर कार्य किए जा रहे है। मुख्यमंत्री जी का प्रयास है कि खेती लाभ का धंधा बने इसके लिए हम सबकी भी महती जिम्मेदारी है। आज जो क्रांति रथ गांव-गांव के लिए रवाना हुए है उसका उद्देश्य है कि किसानों में जागृति आए ओर वैज्ञानिक तकनीकियों की जानकारी प्राप्त करते हुए उनका खेतों में उपयोग करें।
   विधायक श्री कल्याण सिंह ठाकुर ने कहा कि किसान भाई मेहनत के क्षेत्र में पीछे नही रहते है बस उन्हें अब आधुनिक कृषि के क्षेत्र में हुए परिवर्तन को आत्मसात करते हुए खेतों में उसका उपयोग करना है। उन्होंने किसानों से आग्रह किया कि वे अपने खेतों की मिट्टी का परीक्षण अवश्य करें ताकि आवश्यक उर्वरकों की पूर्ति सुगमता से हो सकें। रथ के साथ चलने वाले कृषि वैज्ञानिक किसानों की हर समस्या का समाधान करेंगे। उन्होंने किसानों से आग्रह किया कि वे अपने कृषि संबंधी किसी भी प्रकार की समस्या की जानकारी कृषि वैज्ञानिकों से अनिवार्यतः प्राप्त करें। कार्यक्रम को श्री विजयपाल सिंह राजपूत, श्री लालाराम अहिरवार, श्री रघुवीर सिंह दांगी, श्री सोहन पाठक और श्री तुलसीराम ठाकुर ने भी सम्बोधित किया। 
   एसडीएम श्री आरपी अहिरवार ने राजस्व कार्यो पर प्रकाश डालते हुए कहा कि कृषि क्रांति रथ जब गांव में पहुंचे तो हम सब एकत्रित होकर उसके पहुंचने के कारणो को जाने। उन्होंने परम्परागत खेती की जगह आधुनिक खेती का उपयोग करने का आग्रह किया। एसडीएम श्री अहिरवार ने कहा कि खेती के अलावा अन्य सहयोगी व्यवसायों का भी क्रियान्वयन करने की ओर किसानबंधु ध्यान दें। उन्होंने कहा कि कृषि क्रांति रथ का स्वागत ग्रामीणजन अनाज से करेंगे जो अनाज प्राप्त होगा उसे आंगनबाडी केन्द्रों को भेट किया जाएगा जिसका उपयोग कुपोषित बच्चों के आहार के रूप में किया जाएगा। कार्यक्रम के दौरान कृषि वैज्ञानिकों द्वारा संगोष्ठी के माध्यम से कृषि क्षेत्र में हुई नई-नई तकनीकियों की जानकारी दी गई। इस दौरान उन्नत कृषक के द्वारा कृषि क्षेत्र में किए गए अभिनव प्रयोगों की भी जानकारी दी गई। कार्यक्रम के दौरान ग्राम सोंठिया के कृषक प्रहलाद सिंह सिलावट को ट्रेक्टर की चॉबी श्री लालाराम अहिरवार ने सौंपी। कार्यक्रम का संचालन श्री विनोद चौधरी ने किया और आभार हरी सिंह राजपूत ने व्यक्त किया।